अगले माह तीन ग्रहण के कारण उथल-पुथल (5 जून से 5 जुलाई)

5 जून से 5 जुलाई 2020 के बीच मे तीन ग्रहण हैं।
एक महीने में तीन ग्रहण
दो चंद्र ग्रहण
एक सूर्य ग्रहण

जब कभी एक महीने में तीन से ज्यादा ग्रहण आ जाये
तो एक चिंता का विषय बनता हैं।

5 जून 2020 चंद्रग्रहण
प्रारंभ रात 11:15 मिनिट समाप्ति 6 जून सुबह 2:34 चंद्र ग्रहण जिसमे शुक्र वक्री और अस्त रहेगा गुरु शनि वक्री रहेंगे तो तीन ग्रह वक्री रहेंगे, जिसके कारण जिसके प्रभाव भारत की अर्थव्यवस्था पर होगा। शेयर बाजार से जुड़े हुए लोग सावधान रहें। यह ग्रहण वृश्चिक राशि पर बहुत बुरा प्रभाव डालेगा।
परिवार वालो के साथ वाद-विवाद का सामना करना पड़ेगा। वृश्चिक राशि वाले सावधान।

Also Read  अगर आप भी आईपीओ के इंतजार मे है तो 21 सिंतबर को 3 कम्पनियों के आईपीओ बाजार मे आ रहे है ।

21 जून 2020 सूर्य ग्रहण
एक साथ छ ग्रह वक्री रहेंगे बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु, केतु यह छह ग्रह 21 जून 2020 को वक्री रहेंगे। इन छह ग्रह का वक्री होना यानी एक बहुत बड़ा तहलका मचाने वाला हैं।

5 जुलाई 2020 चंद्रग्रहण एक बहुत बड़ा परिवर्तन
मंगल का राशि परिवर्तन
सूर्य का राशि परिवर्तन
गुरु धन राशि मे वापस, लेकिन वक्री रहेंगे।
शुक्र मार्गी
प्राकृतिक आपदाएं आयेगी।
विश्व युद्ध होगा वैश्विक शक्तियां लड़ने को हावी होगी।
किसी ख्यातिप्राप्त यशस्वी कीर्तिमान राजनीति नेता की हत्या होगी कुछ जगह पर आपसी लड़ाईया होगी। जल प्रलय का खतरा मंडरा रहा हैं।

Also Read  अगर आप भी आईपीओ के इंतजार मे है तो 21 सिंतबर को 3 कम्पनियों के आईपीओ बाजार मे आ रहे है ।

5 जून को चंद्र ग्रहण
21 जून को सूर्य ग्रहण
5 जुलाई को चंद्र ग्रहण

तीन ग्रहण के कारण उथल-पुथल मच जायेगी
मांसाहार का त्याग करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here