कोरोना वायरस संक्रमण का असर चार धाम यात्रा पर भी पड़ा, बद्री केदार के कपाट खुलने की बदली तिथि l

कोरोना वायरस संकट का चारधाम यात्रा पर भी असर पड़ता दिख रहा है। संक्रमण को रोकने के लिए 3 मई तक लॉकडाउन किया गया है, जिसे देखते हुए बदरीनाथ और केदारनाथ के कपाट खुलने की तिथियों में बदलाव कर दिया गया है। देवस्थानम बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रविनाथ रमन के अनुसार अब बदरीनाथ धाम के कपाट 15 मई को खोले जाएंगे। लॉकडाउन को देखते हुए यह निणर्य लिया गया है।

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

इसके अलावा केदारनाथ धाम के कपाट खोलने के लिए रावल भीमाशंकर लिंग से विचार विमर्श के बाद नई तिथि की घोषणा की जाएगी।
उन्होंने कहा कि संभावित तिथि 14 मई हो सकती है। वहीं, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट तय तिथि 26 अप्रैल को ही खोले जाएंगे।

गौरतलब है कि पहले बदरीनाथ धाम के कपाट 30 अप्रैल को ब्रह्म मुहूर्त में चार बजकर 30 मिनट पर श्रद्धालुओं के लिए खोल जाने थे। बसंत पंचमी पर नरेंद्रनगर राजमहल में राजपुरोहितों ने महाराजा मनुज्येंद्र शाह की जन्म कुंडली देखकर भगवान बदरी विशाल के कपाट खोलने का मुहूर्त निकाला

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

वहीं, पहले रुद्रप्रयाग में केदारनाथ धाम के कपाट 29 अप्रैल को खोले जाने थे। महाशिवरात्रि महाशिवरात्रि पर्व पर ऊखीमठ स्थित पंचगद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर में श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति पदाधिकारी, हक-हकूकधारी, पंचगाई, धर्माचार्य और वेदपाठियों की मौजूदगी में यह घोषणा की गई थी। इसी के साथ चारोंधामों के कपाट खुलने की तिथि घोषित हुई थी

[contact-form][contact-field label=”Name” type=”name” required=”true” /][contact-field label=”Email” type=”email” required=”true” /][contact-field label=”Website” type=”url” /][contact-field label=”Message” type=”textarea” /][/contact-form]

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

[contact-form][contact-field label=”Name” type=”name” required=”true” /][contact-field label=”Email” type=”email” required=”true” /][contact-field label=”Website” type=”url” /][contact-field label=”Message” type=”textarea” /][/contact-form]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here