माकेर्ट मे तेजी कब तक रहेगी, नये निवेशक क्या करे…जानिए विशेषज्ञ से,

माकेर्ट मे लगातार तेजी आ रही है अधिकतर निवेशकों से यह तेजी की रेली छूट गई है । सबसे के मन मे एक सवाल उठ रहा है कि माकेर्ट मे इतनी तेजी क्या से आ रही है,

इंदिरा सेक्युरिटी के रिसर्च हेड राधेश्याम चौहान की राय ,

पिछले एक महीने से अमेरिका डालर मे कमजोरी है। इस वजह विकासशील देशो मे निवेश बढ़ा है। ठीक ऐसी स्थिति 2003 2007 के दौरान देखने को मिली थी। तब दुनियाभर के शेयर बाजारों मे जबदस्त तेजी आई थी। पिछले कुछ हफ्तों मे भारतीय बाजार मे विदेशी संस्थागत निवेशकों की अच्छी खरीदारी की यह वजह हो सकती है।

Also Read  सम्मान समारोह महावर वैश्य सभा गढ़ी द्वारा

हालंकि इस बारे मे पक्के तौर पर कहना जल्दबाजी होगी, क्योंकि डालर मे कमजोरी अस्थायी या छोटी अवधि के लिये हो सकती है । शेयर बाजार मे तेजी की दूसरी वजह कम या शून्य के करीब ब्याज दर होसकती है। दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशो में मध्यम से लंबु अवधि की बान्ड यील्ड भी बहुत कम रह गई है। इस वजह से ज्यादा पैसा शेयर बाजारों मे जा रहा है।

Also Read  सम्मान समारोह महावर वैश्य सभा गढ़ी द्वारा

पिछले कुछ महीनो के मुकाबले अभी भी शेयरो का वैल्यूएशन कम है। इसके अलावा दुनिया के कई देशो ने राहत पैकेज दिए है। इससे काफी पैसा सिस्टम मे आया है।

अब निवेशको और Trader को क्या करना चाहिए :- यदि निफ्टी 11250 के लेवल पार कर लेती है तो निफ्टी 11500 तक इस ही हफ्ते की expiry तक जा सकती है। इस समय नये निवेश करने मे जोखिम है अभी नये निवेश के लिये थोड़ा इंतजार करना चाहिए । Aggressive trader जिन शेयर तेजी बनी हुई है उन्ही शेयरो मे निवेश करना चाहिए लेकिन 10% stop loss के साथ

Also Read  सम्मान समारोह महावर वैश्य सभा गढ़ी द्वारा

जो निवेशक और trader कम जोखिम उठाना चाहते है उनको options मे spread बनाकर कार्य करना चाहिए क्योंकि इसमे बहुत कम जोखिम होता है।

इस सप्ताह 30 जुलाई के लिये Nifty spread buy nifty call [email protected] and sell [email protected] हानि 3075 लाभ 8175 रूपये का

क्यो ले यह Nifty spread क्योंकि माकेर्ट का Trend positive है। Call put Ratio भी अपने रिकॉर्ड स्तर पर है। जोखिम न्यूतम है।

सौजन्य से –
राधेश्याम चौहान
शोभित अग्रवाल
शेयर बाजार विश्लेषक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here