शिवसेना ने सत्ता की हवस के कारण भाजपा को दिया धोखा – राजनाथ सिंह

देश के रक्षा मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने आज महाराष्ट्र जनसंवाद रैली के दौरान कोरोना महामारी के बहाने एनसीपी, शिवसेना और कांग्रेस गठबंधन सरकार पर जमकर निशाने साधे, और उन्होंने गठबंधन तोड़ने को लेकर शिवसेना को खास तौर पर निशाने पर लिया.

उन्होंने कहा कि कोरोना से महाराष्ट्र के हालात देखें तो लगता है, कि राज्य में सरकार नाम की कोई चीज ही नहीं है, और सरकार अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकती.

उन्होंने आगे कहा कि महाराष्ट्र की सरकार तीन दलों की सरकार है, और लगता है सरकार के नाम पर सरकार चल रहा है. जिसमें विकास का जिस प्रकार का विजन महाराष्ट्र सरकार के पास होना चाहिए, वह नहीं है .

 

राजनाथ सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से महाराष्ट्र के पार्टी कार्यकर्ताओं और जनता को संबोधित किया.

उन्होंने आगे कहा कि कोरोनावायरस को लेकर जिस प्रकार के  हालात महाराष्ट्र में पैदा हुए हैं, वह एक गंभीर चिंता का विषय है, और महाराष्ट्र में पैदा हुई चुनौती से निपटने के लिए जितना सहयोग हो सकता है वह सहयोग मोदी सरकार कर रही है.

आगे बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि मुंबई के अस्पताल टीवी पर देखते हैं और कुछ ऐसे अस्पताल देखने को मिले जहां पर शव पड़े हुए हैं ,और उनके पास कोरोना मरीज पड़े हुए हैं.  क्या वहां पर सरकार नाम की चीज नहीं है, यह सरकार अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकती.

भाजपा से गठबंधन तोड़ने को लेकर शिवसेना पर बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा, कि जब चुनाव लड़ना हुआ तो भाजपा-शिवसेना का गठबंधन हुआ, लेकिन गठबंधन के बाद सत्ता की हवस में भाजपा को धोखा शिवसेना ने दिया, और मैं भाजपा के चरित्र को स्पष्ट करना चाहता हूं, कि हम धोखा खा सकते ,हैं लेकिन धोखा कभी नहीं दे सकते, और यह भाजपा का चरित्र है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here