सोने में रिकवरी, ज्वेलरी बाजारों में फिर रौनक, क्रू़ड में भी तेजी.

सोने में शुक्रवार की तेज गिरावट के बाद आज रिकवरी देखने को मिल रही है। अमेरिका के अच्छे रोजगार आंकड़ों के चलते शुक्रवार को सोना करीब डेढ़ परसेंट गिरा था। निचले स्तर पर खरीदारी और चीन के कमजोर एक्सपोर्ट डेटा से कीमतों को सपोर्ट मिल है।

सोने के मुकाबले चांदी में ज्यादा तेजी है। MCX पर चांदी के दाम करीब 1 परसेंट ऊपर हैं। इस बीच अनलॉक 1 के बाद ज्वेलरी बाजार फिर खुलना शुरू हो गए हैं। मुंबई के बाद आज से दिल्ली के बाजार में भी कारोबार शुरू हो गया है।

Also Read  भजराम पंवार जी (मा० मुख्यमंत्री उत्तराखंड सरकार) में जन सम्पर्क अधिकारी नियुक्त -

कच्चे तेल की कीमतों में आज अच्छी तेजी देखने को मिल रही है। ब्रेंट के दाम 43 डॉलर के ऊपर पहुंच गए हैं। वहीं घरेलू बाजार में दाम एक बार फिर 3 हजार के ऊपर चले गए हैं। ओपेक और रूस में उत्पादन कटौती समय सीमा बढ़ाने पर सहमति बनने से कच्चे तेल को सपोर्ट मिल रहा है।

OPEC+ जुलाई के अंत 97 बैरल प्रति दिन की कटौती बढ़ाने पर सहमत हो गया है। जिससे ब्रेंट 3 महीने के ऊपरी स्तर पर है। बेस मेटल्स में आज ज्यादातर मजबूती देखने को मिल रही है। चीन के एक्सपोर्ट आंकड़े कमजोर आए हैं लेकिन दुनिया के ज्यादातर देशों में डिमांड सुधरने की उम्मीद से मेटल्स को सपोर्ट मिल रहा है।

Also Read  Big breaking:- पूर्ण Lockdown का हौसला नही जुटा पा रही सरकार , पूरे देहरादून , हरिद्वार और उधमसिंहनगर जिले में 10 मई तक सख्त कोरोना कर्फ्यू

बेस मेटल्स में भी मजबूती देखने को मिल रही है। डिमांड में रिकवरी की उम्मीद से मेटल्स को सहारा मिल रहा है। दुनियाभर में लॉकडाउन खुलने से डिमांड बढ़ने के आसार दिख रहे हैं। चीन के एक्सपोर्ट में गिरावट से बढ़त सीमित है।
एग्री कमोडिटीज की बात करें तो कच्चे तेल में तेजी का असर आज ग्वार पर दिख रहा है।

ग्वार गम में करीब डेढ़ परसेंट और ग्वार सीड में  1 परसेंट की तेजी देखने मिल रही है। इसके अलावा अच्छी हाजिर मांग के कारण सरसों में भी अच्छी तेजी है। हालांकि, चना की कीमतों में कमजोरी देखने को मिल रही है।

Also Read  RBI ने की लोन रीस्ट्रक्चरिंग 2.0 की घोषणा! 25 करोड़ रुपये तक के लोन लेने को मिलेगी सुविधा

शोभित अग्रवाल
शेयर बाजार विश्लेषक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here