80 करोड़ भारतवासियों को दी खुशखबरी! ऐसे मिलेगा लाभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने संबोधन में 80 करोड़ देशवासियों को बड़ी खुशखबरी दी है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना नवंबर 2020 तक के लिए बढ़ा दी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा की हमारे यहां वर्षा ऋतु के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर एग्रीकल्चर सेक्टर में ही ज्यादा काम होता है। अन्य दूसरे सेक्टरों में थोड़ी सुस्ती रहती है। जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है। त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर 2020 महीने के आखिर तक कर दिया जाए।

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

आप कैसे कर सकते हैं आवेदन

नवंबर 2016 में नोटबंदी के बाद आई इस योजना को शुरू किया गया था।
इस स्कीम के तहत अपनी अघोषित आय का खुलासा करने वालों को टैक्स में 50 फीसदी छूट तय की गई थी। साथ ही इसमें से 25 फीसदी राशि 4 सालों तक सरकार के पास रखने का नियम बनाया गया। यह रकम बिना किसी ब्याज के 4 साल बाद सरकार उस व्यक्ति को लौटा देगी। सरकार ने कहा था कि इसी रकम को गरीब कल्याण योजना फंड में रख कर कल्य़ाणकारी योजनाओं में खर्च किया जाएगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में आवेदन करने के लिए कोई अलग से प्रोसेस नहीं है।

Also Read  देहरादून में सरेआम बेखौफ बदमाशों ने सर्राफ को गोली मार कर लूट को दिया अंजाम

PMGKY योजना के तहत लगभग 80 करोड़ लोगों को कवर किया जा रहा है। इसके तहत सभी को पहले से जो कुछ भी मिल रहा है उसके अतिरिक्त 5-5 किलो गेहूं या चावल दिया जा रहा है। ये उस पर निर्भर करता है की वो चावल लेता है या गेहू। कोरोना के संकट में प्रोटीन की महत्ता को देखते हुए सरकार नवंबर 2020 महीनों के लिए प्रत्येक घर को उनकी पसंद की 1 किलो दाल भी उपलब्ध कराएगी।

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

PM KISAN योजना के माध्यम से किसानों को हर साल 6000 रुपए दिए जा रहे हैं। अनुमान है कि लगभग 8.69 करोड़ किसानों को इससे तुरंत लाभ होने की उम्मीद है। अब नवंबर 2020 तक के लिए, दिव्यांग, गरीब वरिष्ठ नागरिक, विधवाओं को 1000 रुपए दिए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here