उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 500 पार। देहरादून में इन चार इलाकों को किया सील!

उत्तराखंड में कोरोनावायरस संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। गुरुवार को भी नए कोरोनावायरस संक्रमित मरीज पाए गए। एक वेबसाइट के मुताबिक उत्तराखंड में बृहस्पतिवार को 30 और लोगों में कोरोना संक्रमण मिला है। इन्हें मिला कर प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 508 पहुंच गई है।

वहीं, देहरादून, हरिद्वार, टिहरी, अल्मोड़ा और नैनीताल जिले में 30 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। दून में 17 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें एक मरीज मुंबई से आया। जबकि तीन संक्रमित निरंजनपुर मंडी में आढ़ती हैं। पांचवां मरीज पहले से संक्रमित मरीज के संपर्क में आया है। वहीं, निजी पैथोलॉजी लैब में भी एक व्यक्ति में कोरोना संक्रमण मिला है। वो एक निजी अस्पताल में भर्ती है।

वहीं शाम को दून में तीन और संक्रमित पाए गए। इनमें एक मरीज एम्स ऋषिकेश में भर्ती है। दूसरा महाराष्ट्र से आया है। जबकि तीसरा मरीज पहले से संक्रमित मरीज के संपर्क में आया है। वहीं देर रात एम्स ऋषिकेश में आठ और मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें भी कई लोग बाहर से आए बताए जा रहे हैं। हरिद्वार जिले में महाराष्ट्र से आए सात लोग संक्रमित मिले हैं।

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

टिहरी जिले में भी महाराष्ट्र से आए दो और लोग संक्रमित पाए गए। अल्मोड़ा में तीन संक्रमित मरीज महाराष्ट्र से आए हैं। नैनीताल जिले में कोरोना संक्रमित मिले मरीज की मौत हो गई है। पिछले चार महीने से संक्रमित मरीज का दिल्ली में कैंसर का इलाज चल रहा था। बृहस्पतिवार को मरीज ने दमतोड़ दिया, उसके सैंपल में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।

अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीज पहले से कैंसर से पीड़ित था। डेथ रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का सही पता लग पाएगा। पंत ने बताया कि बृहस्पतिवार को 30 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 508 पहुंच गई है। इसमें 79 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा जा चुका है।

Also Read  देहरादून में सरेआम बेखौफ बदमाशों ने सर्राफ को गोली मार कर लूट को दिया अंजाम

देहरादून के चार इलाके सील
कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद दून जिले के चार इलाकों को कंटेनमेंट जोन में पाबंद कर दिया गया है। इसमें शहर के वार्ड 43 प्रेमनगर की प्रेम बत्ता गली संतोवाली घाटी, रेसकोर्स स्थित नेगी तिराहा व डांडीपुर और ऋषिकेश का सिंचाई विभाग परियोजना खंड शामिल है। इन सभी इलाकों के लोग प्रशासन के अगले आदेश तक अंदर ही रहेंगे।

इसके अलावा बैंक, दुकानें समेत अन्य सभी प्रतिष्ठान भी पूरी तरह बंद रहेंगे। जिलाधिकारी डा. आशीष श्रीवास्तव ने उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। पुलिस ने बैरिकेडिंग कर इलाके को पाबंद कर दिया ताकि लोग अनावश्यक इधर-उधर ना जा सकें।

Also Read  उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खबर, जानिए नए दिशा निर्देश

जिलाधिकारी ने अधिकारियों को पूरे पाबंद इलाके में जरूरी वस्तुओं की सप्लाई नियमित रखने के निर्देश दिए। इस दौरान परिवार का एक सदस्य घर के बाहर आकर सामान ले सकता है। उन्होंने बताया कि दूध, फल-सब्जियों की कमी नहीं होने दी जाएगी। क्षेत्र की सफाई व्यवस्था के लिए
नगर निगम की अलग-अलग टीमों को लगाया गया है।

जिलाधिकारी ने सीएमओ डा. बीसी रमोला को सामुदायिक स्वास्थ्य पर नजर बनाए रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की इमरजेंसी पर कॉलोनी के लोग पुलिस के टोल फ्री नंबर 112 पर संपर्क कर मदद ले सकते हैं। वहीं, आदेशों का पालन न करने, अनावश्यक घर से बाहर घूमने वालों को उन्होंने आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत कार्रवाई की चेतावनी भी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here