सूंघने और स्वाद में आई है कमी, तो आपको कराना पड़ सकता है कोरोना टेस्ट

 

भारत सरकार के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज शनिवार को कोरोनावायरस के लक्षणों में सूंघने और स्वाद की क्षमता में कमी आने को भी शामिल कर लिया है।

हालांकि इस मुद्दे पर राष्ट्रीय टास्क फोर्स द्वारा भी चर्चा की गई थी और जिसके बाद इस बारे में फैसला लिया गया है।

 

आपको बता दें कि कोरोना के कई मामलों में मरीजों के सूंघने और स्वाद को महसूस करने की क्षमता में कमी आई है जिसके चलते इन्हें आप कोरोना संक्रमण के लक्षणों में शामिल कर लिया गया है.

Also Read  उत्तराखंड में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के मामले, जानिए आज कितने नए मामले आये सामने

इससे पहले बुखार, कफ,थकान, सांस लेने में दिक्कत, बलगम के साथ खांसी, मांसपेशियों में दर्द, नाक से पानी बहना, गला खराब होना और दस्त होना जैसे लक्षण शामिल थे। जिनके आधार पर कोरोना की जांच की जा रही थी।

 

डब्ल्यूएचओ ने अप्रैल में यूरोपीय संघ के कई देशों में रिकार्ड आस्ट्रेलिया के साथ निकल कोविड-19 के प्रमुख लक्षणों में सूंघने और स्वाद की कमी को जोड़ा था जो आप भारत में भी लागू हो गया।

Also Read  शादी में शामिल होने वाले सभी लोगो को RT-PCR की नेगेटिव रिपोर्ट लानी है, जानिए क्या है नए नियम ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here