Uttarakhand News: भाजपा नेताओं के कोरोना संक्रमित पाए जाने से कार्यकर्ताओं में हड़कंप। संभाग कार्यालय 10 दिन के लिए बंद।

उत्तराखंड राज्य में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत और जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से हड़कंप मच गया है। बेस अस्पताल में रैपिड टेस्ट के दौरान रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दोनों को एसटीएच में भर्ती किया गया है। प्रशासन की टीम ने इनके संपर्क में आए लोगों की तलाश शुरू कर दी है। संक्रमित होने से पहले दोनों नेताओं के पार्टी कार्यक्रम और दौरों में रहने के चलते कार्यकर्ताओं में हड़कंप मच गया है।

बताया जा रहा है कि भाजपा के तमाम कार्यक्रमों में सक्रिय रहने के दौरान प्रदेश प्रवक्ता प्रकाश रावत को 14 जुलाई को बुखार की शिकायत हुई थी। इसके बाद वह शहर के एक होटल में सेल्फ क्वारंटाइन हो गए थे। शनिवार को उनका बेस अस्पताल में रैपिड टेस्ट किया गया, जो पॉजिटिव आ गया। वहीं, जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट भी चार दिनों से बुखार पीड़ित थे। वे भी घर में सेल्फ क्वारंटाइन चल रहे थे। शनिवार को बिष्ट भी बेस अस्पताल में कोरोना जांच को रैपिड टेस्ट कराने पहुंचे। बेस अस्पताल के पीएमएस डॉक्टर हरीश लाल ने बताया कि दोनों नेताओं की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। उन्हें डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। प्रशासन की टीम ने अब उनकी ट्रेवल हिस्ट्री के साथ कांटैक्ट ट्रेसिंग शुरू कर दी है।

Also Read  Uttarakhand News: अब टेक्नोलॉजी से आएगी महिलाओं से सोशल मीडिया पर अभद्रता करने वालों की शामत, पहचान कर होगी कार्रवाई

सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह ने बताया कि दोनों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग शुरू कर दी गई है। रिपोर्ट आने के बाद जरूरी हुआ तो भाजपा दफ्तर सील किया जाएगा। वहीं दो बड़े नेताओं को कोरोना होने के बाद भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं में खलबली मच गई है। भाजपा नेता प्रकाश रावत और प्रदीप बिष्ट ने अस्पताल से फोन पर हिन्दुस्तान को बताया कि उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, लेकिन तबीयत बिल्कुल सामान्य है। वह जल्द ही कोरोना को मात देकर घर लौटेंगे।

Also Read  उत्तराखंड: 22 साल के विभव ने घर में ही खुद को गोली मारकर की आत्महत्या, चौकाने वाला व्हाट्सएप आया सामने

भाजपा के दो प्रमुख नेताओं के संक्रमित पाए जाने के बाद प्रशासन की टीम ने दोनों नेताओं की कांटैक्ट ट्रेसिंग शुरू कर दी है। दोनों नेताओं की ट्रैवल हिस्ट्री भी खंगाली जा रही है। बताया जाता है कि दोनों नेता रिपोर्ट आने से पहले पार्टी कार्यक्रमों में सक्रियता से हिस्सा ले रहे थे। जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट भाजपा दफ्तर में पत्रकार वार्ता तो प्रवक्ता प्रकाश रावत भाजपा की वर्जुअल रैली की तैयारी में जुटे थे। दोनों नेताओं के कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में पार्टी के तमाम लोगों के चपेट में आने की संभावना है। इससे पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं में दहशत का माहौल है। कार्यकर्ताओं को डर है कि कहीं वह भी संक्रमण की चपेट में न आ जाएं।

Also Read  एक ही परिवार के चार सदस्यों ने एक साथ लगाई फांसी, जानिए दिल दहला देने वाली घटना की वजह

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने प्रदेश प्रवक्ता और जिलाध्यक्ष की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पार्टी का कुमाऊं संभाग कार्यालय 10 दिन के लिए बंद करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने पार्टी नेताओं को यह भी निर्देश दिए हैं कि 10 दिन में दफ्तर पूरी तरह सेनेटाइज किया जाए। इस दौरान किसी भी कार्यकर्ता की दफ्तर में आवाजाही नहीं होगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वह कोरोना के प्रति सतर्क रहें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए जरूरी काम होने पर ही घर से निकलें। घर से निकलने पर मास्क का उपयोग जरूर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here