Uttarakhand : 18 मई के बाद, कहां लग सकती है पाबंदियां? और कहां मिलेगी छूट?

देशभर में लॉकडाउन चल रहा है l कोरोना महामारी के कारण देश में पिछले डेढ़ महीने से ज्यादा समय से लोगों के लिए दुनिया थम सी गई है।

हालांकि धीरे-धीरे लॉकडाउन में शर्तों के साथ ढील यानी छूट दी जा रही है। फिलहाल लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है। 17 मई को तीसरा चरण खत्म होगा और 18 मई से लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो जाएगा। इसके बाद आपकी जिंदगी कितनी बदलेगी।
लॉकडाउन-4 के दौरान कौन सी राहत मिलेगी। परिवहन सेवाएं, दफ्तर, दुकानें खुलेंगी या नहीं, ऐसे कई सवाल आपके जेहन में भी होंगे। चलिए इन सवालों के जवाब जानते हैं।

Also Read  देहरादून में सरेआम बेखौफ बदमाशों ने सर्राफ को गोली मार कर लूट को दिया अंजाम

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में लॉकडाउन के चौथे चरण में ज्यादा रियायतें देने के संकेत दिए हैं। इस दौरान राज्यों को कोरोना से निपटने के लिए हर जरूरी इंतजाम करने के अधिकार दिए जा सकते हैं

1- लॉकडाउन के चौथे चरण में अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने की तमाम कवायदें नजर आएंगी।

2- कंटेनमेंट जोन के हिसाब से मिलने वाली रियायतें बढ़ेंगी।

3- लॉकडाउन-4 में उद्योग से लेकर सर्विस सेक्टर के ज्यादातर संस्थान खुलने जा रहे हैं।

Also Read  देहरादून में सरेआम बेखौफ बदमाशों ने सर्राफ को गोली मार कर लूट को दिया अंजाम

4- इकोनॉमी को गति देने वाले सेक्टर पर ज्यादा छूट दी जाएगी।

5- उद्योग धंधे और व्यापार शर्तों के साथ शुरू किए जा सकेंगे।

6-लॉकडाउन की शर्त तय करने के अधिकार राज्यों को मिलेंगे।

7-सरकारी-प्राइवेट दफ्तर धीरे-धीरे खुलने शुरू होंगे। दफ्तरों को सीमित स्टाफ के साथ खोलने का दायरा बढ़ सकता है।

8- किस जिले को रेड जोन घोषित करना है और किसे ऑरेंज या ग्रीन जोन ये निर्धारित करने का अधिकार राज्य सरकारों को मिल सकता है।

Also Read  देहरादून में सरेआम बेखौफ बदमाशों ने सर्राफ को गोली मार कर लूट को दिया अंजाम

9- रेड जोन का पुनर्निर्धारण किया जा सकता है।

10-घरेलू हवाई यात्रा शुरू की जा सकती है।

अब तक लॉकडाउन के तीन चरण हो चुके हैं, अब चौथे चरण की तैयारी है। कुल मिलाकर लॉकडाउन-4 में कोरोना से कैसे निपटना है, इसकी रणनीति राज्य सरकारें बनाएंगी। चरणबद्ध तरीके से रियायतें बढ़ती रहेंगी। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक लॉकडाउन-4 पूरी तरह से राहत भरा और अलग होने जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here