HDFC Bank Q2: मुनाफे में 18.4% का उछाल, ब्याज आय 16.7% बढ़ी

भारत के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक HDFC बैंक ने सितंबर तिमाही में अपने मुनाफे में 18.4 फीसदी की ग्रोथ हासिल की है। 30 सितंबर 2020 को समाप्त तिमाही में कंपनी का मुनाफा सालाना आधार पर 18.4 फीसदी बढ़त के साथ 7,513.11 करोड़ रुपये रहा है। जो कि पिछले साल इसी अवधि में 6,345 करोड़ रुपये था।

दूसरी तिमाही में बैंक की ब्याज आय सालाना आधार पर 16.7 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 15,776.4 करोड़ रुपये रही है। दूसरी तिमाही में बैंक के असेट क्वालिटी में भी सुधार देखने को मिला है। दूसरी तिमाही में बैंक का ग्रॉस NPA तिमाही आधार पर 1.08 फीसदी घटा है। जबकि बैंक के नेट NPA  में 0.17 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है।

दूसरी तिमाही में बैंक का CASA  रेशियो करीब 42 फीसदी रहा है जो कि पिछले साल की सितंबर तिमाही में 39.3 फीसदी था। इसी साल की जून तिमाही में ये 4.1 फीसदी था।   

दूसरी तिमाही में बैंक की प्रोविजनिंग 37 फीसदी बढ़कर 3703 करोड़ रुपये रही है।बैंक ने अपने बयान में कहा है कि मौजूदा तिमाही में आर्थिक गतिविधियों में कुछ सुधार देखने को मिला है। लेकिन इकोनॉमी में लगातार बने दबाव की वजह से लोन वितरण,थर्ड पार्टी प्रोडक्ट की बिक्री क्रेडिट और डेबिट कार्ड से होने वाली खरीद और लोन की वापसी की गतिविधियों पर असर पड़ा है। बैंक ने यह भी कहा है कि इकोनॉमी में छाई मंदी को देखते हुए आगे ग्राहकों के डिफाल्ट बढ़ सकते हैं जिससे आगे चलकर बैंक को और प्रोविजनिंग करनी पड़ सकती है।

बता दें कि शुक्रवार के कारोबारी सत्र में HDFC बैंक के शेयर में तिमाही नतीजों के पहले 2 फीसदी से ज्यादा बढ़त देखने को मिली थी। सितंबर तिमाही के दौरान इस शेयर में 12 फीसदी से ज्यादा की बढ़त देखते को मिली है। वहीं अगर इस साल अब तक की स्थिति पर नजर डालें तो इस शेयर में 5.5 फीसदी का करेक्शन देखने को मिला।

शोभित अग्रवाल
शेयर बाजार विश्लेषक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here