अंतर्राष्ट्रीय धरोहर बने रम्भा नदी : डॉ हरीश यादव

 

ऋषिकेश में बहने वाली पौराणिक रम्भा नदी के संरक्षण के लिए उसे अंतरराष्ट्रीय प्राकृतिक धरोहर की सूची जिसे रामसर साइट (Ramsar Sire) भी कहा जाता है मैं सम्मिलित करने के लिए डॉक्टर हरीश यादव ने एक प्रस्ताव केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री भारत सरकार को भेजा है l

रामसर सूची वह अंतरराष्ट्रीय सूची है जिसमें महत्वपूर्ण राशियों को सूचीबद्ध किया जाता है इसका उद्देश्य जल राशियों का एक अंतरराष्ट्रीय तंत्र विकसित करना है ताकि जैविक विविधता के साथ नदियों तालाबों झीलों का संरक्षण हो सके l

Also Read  छोटी सी बात पर युवक ने की ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या, पूरे परिवार को मारना चाहता था युवक

भारत में कुल 37 साइट्स इस सूची में शामिल है उत्तराखंड की रम्भा नदी (Rambha River) जैव विविधता संपन्न है सोमेश्वर मंदिर से निकलकर काले की ढाल होते हुए वीरभद्र मंदिर के समीप यह गंगा में गिर जाती है l

डॉक्टर हरीश यादव ने कहा है कि जल राशियों का संरक्षण आवश्यक है डॉक्टर हरीश के प्रयासों के द्वारा केंद्रीय जल संसाधन मंत्रालय भारत सरकार ने सभी राज्यों को डॉक्टर हरीश यादव का पत्र भेजकर सभी राज्यों में सूखी नदियों व तालाबों का एक डेटाबेस तैयार करने को कहा है ताकि इन पर अवैध कब्जों को रोका जा सके डॉ हरीश यादव केंद्रीय सिविल सेवा के अधिकारी हैं तथा पर्यावरण संरक्षण पर कार्यरत है

Also Read  अन्य राज्यों से उत्तराखंड आने वाले यात्रियों के लिए जारी नए दिशानिर्देश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here