Uttarakhand Big News: बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ी खबर। जानिए कब और कैसे कराए जाएंगे एग्जाम!

शुक्रवार को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने विभागीय प्रस्ताव को मंजूरी दे दी l उत्तराखंड बोर्ड की छूटी हुई परीक्षाएं 20 से 23 जून के बीच होंगी। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षीसुंदरम को इस कार्यक्रम के अनुसार परीक्षाएं कराने के निर्देश दे दिए गए हैं। हाईस्कूल और इंटर मीडिएट के 13 पेपर लॉकडाउन की वजह से नहीं हो पाए हैं।

शिक्षा मंत्री ने बताया कि परीक्षाओं के दौरान कोरोना से बचाव के लिए पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। कोरोना संक्रमित लोगों के लिए बनाए गए क्वारंटाइन सेंटरों का सेनेटाइजेशन का काम 15 जून से शुरू कर दिया जाएगा।

Also Read  शादी में शामिल होने वाले सभी लोगो को RT-PCR की नेगेटिव रिपोर्ट लानी है, जानिए क्या है नए नियम ?

हाईस्कूल के पांच और इंटर मीडिएट के आठ विभिन्न पेपर बचे हुए थे।
सीबीएसई,आईसीएसई द्वारा परीक्षाए स्थगित करने पर उत्तराखंड बोर्ड ने भी 23,24 और 25 मार्च की बोर्ड परीक्षा को टाल दिया था। खासकर सोशल डिस्टेसिंग के लिए परीक्षा कक्षों की संख्या को जरूरत के अनुसार बढ़ाने के निर्देश दे दिए गए हैं।

परीक्षा केंद्रों के सेनेटाइजेशन का काम 19 जून तक हर हाल में पूरा कर लेने के निर्देश दिए हैं। 20 को शनिवार होने की वजह से इस दिन परीक्षा शुरूआत होगी। 21 को रविवार के अवकाश के बाद बाकी बचे दो दिन में बाकी सभी पेपर करा लिए जाएंगे।

Also Read  प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के मामले, जानिए आज कितने नए मामले आये सामने

शुक्रवार को उन्होंने सचिव को विभागीय प्रस्ताव के अनुसार परीक्षाएं कराने की अनुमति दे दी। बीते रोज शिक्षा मंत्री ने काशीपुर में विद्यालयी शिक्षा परिषद की बैठक कर तैयारियों की समीक्षा की थी।

अकसर देखा जाता है परीक्षा शुरू होने से पहले और छूटने के दौरान बच्चे झुंड बनाकर आपस में बातचीत करते हैं। लेकिन शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा है , संक्रमण रोकथाम के चलते इस बार बच्चे ऐसा नहीं कर पाएंगे।

इसके लिए सुरक्षाकर्मियों को परीक्षा केंद्रों पर तैनात किया जाए। इसके लिए जिलाधिकारी को निर्देश दिए गए हैं कि वह स्कूल के आसपास बच्चों का झुंड न बनने दें,

Also Read  IHRCCO ह्यूमन राइट्स संगठन के प्रदेश अध्यक्ष बने गौरव खंडेलवाल .

परीक्षा को लेकर आवश्यक निर्देश

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए परीक्षा दो पालियों में कराई जाएंगी।
परीक्षा केंद्र पर परीक्षा से पहले सेनेटाइजेशन होगा।
छात्र-छात्राओं को परीक्षा के वक्त मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
छात्रों को परीक्षा कक्ष में जाने से पहले सेनेटाइज कराया जाएगा।
एक पाली की परीक्षा संपन्न होने के बाद दूसरी परीक्षा कराने से पहले कक्ष को सेनेटाइज कराया जाएगा।
जो बच्चे मास्क नहीं लाएंगे उनको परीक्षा केंद्र से मास्क उपलब्ध कराया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here